शादी के दो दिन बाद ही दूल्हे की हुई थी मौत, अब हलवाई, फोटोग्राफर समेत 100 से अधिक लोग कोरोना पॉजिटिव | patna – News in Hindi

0
2


शादी के दो दिन बाद ही दूल्हे की हुई थी मौत, अब हलवाई, फोटोग्राफर समेत 100 से अधिक लोग कोरोना पॉजिटिव

बिहार में कोरोना के संक्रमण का आंकड़ा 10 हजार के करीब जा पहुंचा है (फाइल फोटो)

पालीगंज बीडीओ चिरंजीवी पांडेय के द्वारा प्रभावित डीहपाली, मीठा कुआं, बाबा बोरिंग रोड के अलावे बाजार के कुछ इलाके को बैरिकेटिंग और सील कर दिया गया है. उसके बाद लाउड स्पीकर के साथ बिना काम के बाहर नहीं निकलने की लोगों से अपील की जा रही है.

रिपोर्ट- आदित्य आनंद

पटना. बिहार में कोरोना (Corona Epidemic) का कहर लगातार जारी है और इसके संक्रमित मरीजों की संख्या 10 हजार के पास पहुंच गया है. इस बीच पटना में कोरोना ने भयावह रूप अख्तियार कर लिया है. जिला मुख्यालय से सटे पालीगंज में एक शादी समारोह (Marriage Ceremony) में कोरोना का विस्फोट हुआ नतीजन पूरा इलाका इसकी चपेट में आ गया है. अब पालीगंज के कई गांव में कोरोना का कहर बहुत तेजी से फैल रहा है. पालीगंज में हुई इस शादी के दो दिन बाद ही जहां दूल्हे की मौत हो गई थी तो वहीं अब पंद्रह दिनों बाद भी उस शादी में गए लोग इस बीमारी से संक्रमित पाए जा रहे हैं.

एक साथ 86 लोग मिले पॉजिटिव

शादी में शामिल हुए सौ से अधिक लोग बीमार हो चुके हैं जिनमें हलवाई, फोटोग्राफर से लेकर किराना और सब्जी विक्रेता तक शामिल हैं. सोमवार को केवल पालीगंज में 86 लोग एक साथ कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. लगभग साढ़े तीन सौ लोगों का सैम्पल तीन-चार दिन पहले ही जांच के लिए गया था जिसमें बारात में आने वाले और शादी वाले घर से तालुक रखने वाले रिश्तेदार और बाराती भी शामिल थे. जांच रिपोर्ट आने के बाद इलाके में भय का माहौल है. पुलिस प्रसाशन के अलावा मेडिकल टीम अलर्ट मोड में आ गई है.दिल्ली से घर आया था दूल्हा 15 जून को हुई थी शादी

पालीगंज बीडीओ चिरंजीवी पांडेय के द्वारा प्रभावित डीहपाली, मीठा कुआं, बाबा बोरिंग रोड के अलावे बाजार के कुछ इलाके को बैरिकेटिंग और सील कर दिया गया है. उसके बाद लाउड स्पीकर के साथ बिना काम के बाहर नहीं निकलने की लोगों से अपील की जा रही है. अधिकारियों के मुताबिक डीहपाली गांव निवासी एक युवक की विगत 15 जून को शादी हुई थी. बताया जाता है कि युवक दिल्ली से हाल में ही अपनी कार से आया था. वो वहां एक निजी कंपनी में इंजीनियर था. जब वो घर आया उस समय बिहार में क्वारेंटाइन सेंटर बंद हो चुके थे, जिसके बाद उसे होम क्वारेंटाइन कर दिया गया था.

125 लोगों को लिया गया सैंपल

इस बीच शादी के दूसरे दिन यानी 17 जून को पेट दर्द की शिकायत के बाद उसे निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया, जिसके बाद उसे पटना भेज दिया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी थी. बाद में प्रखंड विकास पदाधिकारी चिरंजीवी पांडेय के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मामले की छानबीन की और मृत युवक के स्वजनों सहित कोरोना संक्रमण की जांच के लिए करीब 125 लोगों का सैंपल लिया.

अभी भी इलाके में हो रही हैं शादियां

सोमवार को जो कोरोना रिपोर्ट आई है उसमे किराना दुकानदार, सब्जी विक्रेता, हलवाई के अलावे पंचायत समिति सदस्य के पति भी कोरोना से ग्रसित हो गए हैं. इसी गांव का एक लड़का जो मृतक दूल्हे का रिश्तेदार था वो उसके अंतिम संस्कार में भी शामिल था भी कोरोना से ग्रसित है. कोरोना संक्रमण के इतने बड़े मामले के बाद भी इलाके में धड़ल्ले से शादियां हो रही है जहां भारी संख्या में लोग जुट रहे हैं.

First published: June 30, 2020, 10:21 AM IST





Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें