सोशल मीडिया पर RJD ने सबको पछाड़ा, जानें Twitter-Facebook पर बिहारी नेताओं के कितने हैं फॉलोअर्स | patna – News in Hindi

0
2


सोशल मीडिया पर RJD ने सबको पछाड़ा, जानें Twitter-Facebook पर बिहारी नेताओं के कितने हैं फॉलोअर्स

बीजेपी सोशल मीडिया प्रभारी अमृता भूषण का कहना है कि भाजपा के कई विंग हैं. (फाइल फोटो)

जेडीयू सांसद सुनील कुमार पिंटू (JDU MP Sunil Kumar Pintu) कहते हैं कि जो कभी सोशल मीडिया पर चुटकी लेते थे आज उसी के पीछे हो लिए. लेकिन इसमें भी राजद ने घोटाला कर दिया होगा.

पटना. कोरोना संक्रमण के दौर के बीच बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में सोशल मीडिया (Social Media) का खास महत्व रहने वाला है. हर राजनीतिक पार्टी की पूरी कोशिश है कि सोशल मीडिया पर ज़्यादा से ज़्यादा फ़ोकस किया जाए. इस समय बिहार में तमाम राजनीतिक पार्टियां और प्रमुख नेता का सोशल मीडिया पर सक्रिए हो गए हैं. तो आइए जानते हैं इन नेताओं में आखिर कौन है बिहार के सोशल मीडिया का किंग (King)?

बिहार के सियासत में शायद ही कभी ऐसा दौर आया हो जब तमाम पार्टियां जनता के बीच जाने के बजाए सोशल मीडिया पर ज्यादा ही फोकस किया हो. लेकिन कोरोना ने तमाम पार्टियों को चुनावी रणनीति बदलने पर मजबूर कर दिया है. आज हम आपको बताते हैं बिहार की तमाम उन राजनीतिक पार्टियों के सोशल मीडिया के हालात के बारे में. आखिर कौन सी पार्टी सोशल मीडिया पर अव्वल है और कौन नेता सोशल मीडिया का किंग है?

 ट्वीटर अकाउंट पर कितने फॉलोअर्स
बात पहले राजनीतिक पार्टियों की करते हैं. इसके लिए इन पार्टियों के ट्वीटर अकाउंट पर जाना होगा. राजद- 311 k, बीजेपी- 149 k, जेडीयू – 28.3 k, कांग्रेस- 3.9 k और जाप के – 19.1 k फॉलोअर्स हैं. वहीं, फेसबुक अकाउंट पर नजर डालें तो RJD- 374 k,  BJP Bihar- 341 k,  Congress Bihar- 145 k,  JDU- 47 k,  RLSP- 12k, LJP- 10k और JAP- के 173 k फॉलोअर्स हैं.अब हम बात करते है बिहार के कुछ प्रमुख नेताओं के ट्वीटर अकाउंट के बारे में. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार – 5.7 M, तेजस्वी यादव- 2.4M, सुशील मोदी – 2.1M, चिराग पासवान- 132 k और पप्पू यादव के- 119 K फॉलोअर्स हैं. इसी तरह फेसबुक अकाउंट पर सीएम नीतीश कुमार- 1.5M, तेजस्वी यादव -1.4M, सुशील कुमार मोदी-  1.3 M, पप्पू यादव- 570k और चिराग पासवान के – 209K लोग चाहने वाले हैं.

सहयोगियों को काफी पीछे छोड़ रखा है
सोशल मीडिया में राजनीतिक पार्टी के तौर पर देखें तो राजद ने अपने विरोधियों से लेकर सहयोगियों को काफी पीछे छोड़ रखा है. लेकिन अगर बिहार के प्रमुख नेताओं के व्यक्तिगत अकाउंट को देखें तो नीतीश कुमार बाजी मारते दिखते हैं. लेकिन तेजस्वी यादव नीतीश कुमार को बहुत मजबूत चुनौती दे रहे हैं.
राजद सोशल मीडिया के आंकड़े पर बेहद उत्साहित है. राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी कहते हैं कि यही ट्रेंड विधानसभा चुनाव में रहेगा जहां तेजस्वी जी सबको पीछे छोड़ आगे निकल जाएंगे.

इसमें भी राजद ने घोटाला कर दिया होगा

वहीं, जेडीयू सांसद सुनील कुमार पिंटू कहते हैं कि जो कभी सोशल मीडिया पर चुटकी लेते थे आज उसी के पीछे हो लिए. लेकिन इसमें भी राजद ने घोटाला कर दिया होगा. वहीं, बीजेपी सोशल मीडिया प्रभारी अमृता भूषण का कहना है कि भाजपा के कई विंग हैं, जिस पर अगर सब संख्या जोड़ दिया जाए तो हम बाकियों से कहीं आगे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि राजद के आंकड़े पर भरोसा नहीं किया जा सकता है. वहीं, सोशल मीडिया के जानकार कुणाल पराशर बताते हैं कि विधानसभा चुनाव में सोशल मीडिया का बेहद खास महत्व रहने वाला है. जो भी पार्टी इसमें जितना ज़्यादा active रहेगी उसे उतना ही फ़ायदा मिलेगा.

First published: June 30, 2020, 8:22 AM IST





Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें